किस देवता या ग्रह के लिए कौन सा दीपक जलाएं ?

kis devta ko prasan karne ke liye koon sa deep jalaye, laxmi ko prasan karne ke upay, shani dev ko prasan karne ke upay, hanuman ji ko prasan karne ke upay, shani ko prasan karne ke upay, ganesh ji ko prasan karne ke upay, shiv ko prasan karne ke upay, surya dev ko prasan karne ke upaye, deep dwara prasan karne ke upay, इष्ट देव को प्रसन करने के उपाय, दीप के प्रकार,

laxmi ko prasan karne ke upay, shani dev ko prasan karne ke upay, hanuman ji ko prasan karne ke upay, shani ko prasan karne ke upay, ganesh ji ko prasan karne ke upay, shiv ko prasan karne ke upay, surya dev ko prasan karne ke upaye, deep dwara prasan karne ke upay, इष्ट देव को प्रसन करने के उपाय, दीप के प्रकार,

किस देवता या ग्रह के लिए कौन सा दीपक जलाएं ?

जब हम किसी देवता का पूजन करते हैं तो सामान्यतः दीपक जलाते हैं। दीपक किसी भी पूजा का महत्त्वपूर्ण अंग है । हमारे मस्तिष्क में सामान्यतया घी अथवा तेल का दीपक जलाने की बात आती है और हम जलाते हैं। जब हम धार्मिक ग्रंथों के अनुसार भिन्न-भिन्न देवी-देवताओं की साधना अथवा सिद्धि के मार्ग पर चलते हैं तो दीपक का महत्व विशिष्ट हो जाता है। दीपक कैसा हो, उसमे कितनी बत्तियां हों , इसका भी एक विशेष महत्त्व है। उसमें जलने वाला तेल व घी किस-किस प्रकार का हो, इसका भी विशेष महत्त्व है। उस देवता की कृपा प्राप्त करने और अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए ये सभी बातें महत्वपूर्ण हैं।
1. हमें आर्थिक लाभ प्राप्त करना हो तो नियम पूर्वक अपने घर के मंदिर में शुद्ध घी का दीपक जलाना चाहिए।

2. हमें शत्रुओं से पीड़ा हो तो सरसों के तेल का दीपक भैरव जी के सामने जलाना चाहिये।

3. भगवान सूर्य की प्रसन्नता के लिए घी का दीपक जलाना चाहिए ।

4. शनि के लिए सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए।

5. पति की दीर्घायु के लिए गिलोय के तेल का दीपक जलाना चाहिए।