एक दिव्य चमत्कारी माता का मंदिर, पुरे साल में सिर्फ पांच घण्टे ही खुलता है यह !

nirai mata, nirai mata ka chamatkar, nirai mata ka chamatkari madir, mata ka chamatkari madir, mata ka chamatkar, माता का चमतकारी मंदिर, माता का चमत्कार, देवी का चमत्कार

nirai mata, nirai mata ka chamatkar, nirai mata ka chamatkari madir, mata ka chamatkari madir, mata ka chamatkar, माता का चमतकारी मंदिर, माता का चमत्कार, देवी का चमत्कार

पुरे साल में सिर्फ पांच घण्टे ही खुलता है यह दिव्य चमत्कारी माता का मंदिर : –

इस मंदिर में माता के चमत्कार के आगे सभी भक्त नतमस्तक है, यहां माता के चमत्कार को देखने भक्तो का सैलाब उमड़ता है. यह माता का अलौकिक का बहुत ही दिव्य एवम अलौकिक मंदिर ही तथा जो भी भक्त माता के इस मंदिर में अपनी मुरादे लेकर आया है वह निश्चित ही पूरी हुई है.

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में मुख्यालय से 12 किलोमीटर की दुरी पर पैरी नदी के पास पहाड़ी पर विराजमान निराई माता का मंदिर श्रद्घालुओं एवं भक्तों के आकर्षण का केंद्र है.

खुद ही अपने आप प्रवज्जलित हो जाती माता के मंदिर में ज्योति :-

निराई माता के इस चमत्कारी मंदिर की खासियत यह है की हर वर्ष चैत्र नवरात्री के समय देवी स्थल पहाड़ियों में अपने आप ही ज्योति प्रवज्जलित हो जाती है. यह आज तक कोई ज्ञात नही कर पाया ही की ये ज्योति कैसे प्रवज्जलित होती है.

स्वयं प्रवज्जलित होने वाली ज्योति के विषय में यहां लोगो की मान्यता है की यह माता निराई देवी का चमत्कार है. यह चमत्कारी ज्योत बिना तेल के चैत्र नवरात्रि में नो दिनों तक बगैर तेल के जलता है.