यदि श्रावण में करना है महादेव को प्रसन्न तो भूल से भी मत कर ये 8 कार्य !

kaise kare bhole baba ko prasan, bhagwan shiv ko prasan kaise kare, kaise kare shiv pooja, shiv ji ko prasan karne ke upaye, mahadev ko kaise khush kare, bhagwan shiv ko prasan karne ke upay, shiv ji ko kaise prasan kare, bhagwan ko kaise khush kare, laxmi ko khush kaise kare, भगवान शिव को प्रसन्न करने के उपाय, शिव को खुश करना, शिव पूजा के उपाय, शिव पूजा कैसे करे

bhagwan shiv ko prasan kaise kare, kaise kare shiv pooja, shiv ji ko prasan karne ke upaye, mahadev ko kaise khush kare, bhagwan shiv ko prasan karne ke upay, shiv ji ko kaise prasan kare, bhagwan ko kaise khush kare, laxmi ko khush kaise kare, भगवान शिव को प्रसन्न करने के उपाय, शिव को खुश करना, शिव पूजा के उपाय,

श्रावण का महीना आते ही वातावरण में एक अलग से बदलाव आ जाता है हर तरफ बम बम भोले व हर हर महादेव की पुकार सुनाई देने लगती है, क्योकि ये भगवान शिव के भक्ति का महीना है.

श्रावण के महीने को सावन का महीना भी कहा जाता है, इस महीने में भगवान शिव की पूजा उत्तम मानी गयी है. इस माह की पूजा मोक्षदायनी मानी गई है.

श्रावण के महीने में जो भी भक्त भगवान शिव की सच्ची श्रद्धा से भक्ति करता है महादेव शिव उसकी सभी परेशानियों को दूर कर देते है, उसके कार्यो में आ रही मुश्किलें दूर हो जाती है, तथा देवी देवताओ की कृपा प्राप्त होते है.

सावन के महीने में भगवान शिव के भक्तो की हर शिव मंदिर में भीड़ लगी रहती है. भगवान शिव का स्वभाव ऐसा है की वह शीघ्र ही अपने भक्तो से प्रसन्न हो जाते है परन्तु यदि उनका किसी भी तरह से अनादर किया जाए तो उनका क्रोध बहुत ही भयानक होता है.

आज हम आपको शास्त्रों के अनुसार बताए गए 8 ऐसी बाते बताने जा रहे है जिन्हे भूल से भी इन श्रावण माह में न करें, अन्यथा भगवान शिव की कृपा आपको प्राप्त नहीं हो पाएगी तथा आपकी समस्या बनी रहेगी.

1 . शिवलिंग पर ना चढ़ाए हल्दी :-

शिवजी की पूजा करते समय ध्यान रखे की शिवलिंग पर हल्दी नहीं चढ़ानी चाहिए. हल्दी जलधारी पर चढ़नी चाहिए. हल्दी देवियों पर चढ़ाई जाती है जबकि भगवान शिव पुरुष तत्व है.

यही कारण ही की शिवलिंग पर हल्दी नहीं चढ़ती. हल्दी जलधारी पर चढ़ानी चाहिए क्योकि वह माता पार्वती का प्रतीक है.