gupt dhan prapti sadhana गुप्त धन प्राप्ति साधना

gupt dhan prapti sadhana, gada dhan prapti mantra, turant dhan prapti, gupt dhan nikalne ka mantra, dhan prapti sadhana in hindi, gupt mantra in hindi, gupt dhan by premchand, gupt dhan pane ke upay, lord sheshnag mantra, मनसा साधना, मनसा देवी स्तोत्र, मनसा देवी मंत्र, नाग कन्या साधना, नागलोक की कहानी, मां मनसा देवी, आकस्मिक धन प्राप्ति साधना, गुप्त धन प्राप्ति साधना

gupt dhan prapti sadhana  गुप्त धन प्राप्ति साधना 

हमारा हिन्दू धर्म बहुत ही प्राचीन है तथा उतने ही gupt dhan prapti sadhana प्राचीन है हमारे धर्म ग्रन्थ व इनमे दिया गया अमूल्य ज्ञान. इन ग्रंथो में वर्णित अनेक ऐसी बाते है जिनके द्वारा व्यक्ति अपने आपको बेहतर बना सकते है.

सदियो पहले ऋषि मुनि ग्रंथो के ज्ञान द्वारा gupt dhan prapti sadhana अपने अनेक कार्यो को सिद्ध कर देते थे वे ग्रंथो में बताये गए उपायो द्वारा हर व्यक्ति के दुखो को दूर करते थे. अनेको महान ऋषियों ने अपने अमूल्य ज्ञान को ग्रंथो के रूप में समेटा. gupt dhan prapti sadhana

आज हम आपको इन्ही ग्रंथो में बताई गई gupt dhan prapti sadhana कुछ उन उपायो के बारे में बताने जा रहे है जो हमारे पूर्वज व महान ऋषि मुनियो ने ग्रन्थ के रूप में हमें भेट करी थी. ये उपाय वास्तव में असरकारी है तथा इनका प्रयोग बहुत आसान है. कोई gupt dhan prapti sadhana व्यक्ति यदि यह पुरे विधि विधान के साथ करे तथा ईश्वर के प्रति सच्ची श्रद्धा भक्ति के साथ करे तो यह उपाय शीघ्र ही प्रभावकारी होता है.

इन उपायो के माध्यम से व्यक्ति अपने gupt dhan prapti sadhana जीवन में आ रही समस्याओ से मुक्ति पाता व माता लक्ष्मी की कृपा उस पर बनती है.

gupt dhan prapti sadhana

धन वृद्धि  के उपाय :-

1 . श्री गणेश के चित्र gupt dhan prapti sadhana अथवा मूर्ति के आगे ”संकटनाशन गणेश स्रोत” के 11 पाठ करे . एक हरे रंग के कपडे की थैली तैयार करे तथा इसमें 7 मुंग, 2 सुपारी, 10 ग्राम साबुत धनिया, एक पंचमुखी रुद्राक्ष डाल कर गाँठ बाँध ले तथा शुद्ध घी के मोदक भगवान गणेश को अर्पित करे. इसके पश्चात इस हरे रंग की थैली को अपने तिजोरी, अलमारी अथवा गल्ले में रख दे.

शीघ्र ही आपके आर्थिक स्थिति में तेजी से gupt dhan prapti sadhana सुधार आने लगेगा. एक साल के पश्चात ऐसा आप दोबारा करे और पुरानी थैली हटा ले.

2 . सरसो के तेल में कुछ सिक्के, गेहू का आटा, पुराने गुड़ से बने सात पुए , पांच आक के फूल, सिंदूर, आटे से तैयार दीपक आदि को एक बड़े पत्तल अथवा gupt dhan prapti sadhana अरण्डी के पत्ते में रखकर शनिवार के दिन रात्रि के समय चौराहे पर छोड़े तथा कहे की ‘ हे मेरे दुर्भाग्य तुझे यही छोड़े जा रहा हु मेरा पीछा न करना’ .

परेशानी मुक्ति के उपाय :-

1 .आज काल हर व्यक्ति किसी gupt dhan prapti sadhana न किसी परेशानी से दुखी है, तथा वह सिर्फ अपने इन परेशानियों से मुक्ति चाहता है. यदि आप अपनी परेशानियों को दूर करना चाहते है तो एक ताँबे के पात्र में थोड़ा सा जल लेकर उसमे चन्दन मिला ले. रात्रि के समय उस जल को अपने सिराहने के पास रख कर सो जाए तथा सुबह के तुलसी के वृक्ष में चढा दे. धीरे धीरे आपकी सभी परेशानिया दूर होने लगेंगी. gupt dhan prapti sadhana

कुवारी कन्या हेतु उपाय :-

1 . यदि कन्या की शादी में कोई रूकावट आ रही हो तो पूजा वाले 5 नारियल लें . भगवान शिव की मूर्ती या फोटो के आगे रख कर “ऊं श्रीं वर प्रदाय gupt dhan prapti sadhana श्री नामः” मंत्र का पांच माला जाप करें फिर वो पांचों नारियल शिव जी के मंदिर में चढा दें ! विवाह की बाधायें अपने आप दूर होती जांयगी .

2 . प्रत्येक सोमवार को कन्या सुबह नहा-धोकर शिवलिंग पर “ऊं सोमेश्वराय नमः” का जाप gupt dhan prapti sadhana करते हुए दूध मिले जल को चढाये और वहीं मंदिर में बैठ कर रूद्राक्ष की माला से इसी मंत्र का एक माला जप करे ! विवाह की सम्भावना शीघ्र बनती नज़र आएगी.

नजर बाधा को दूर करने के लिए :-

1 . नजर से पीड़ित व्यक्ति के सर में नमक, राई, मिर्च gupt dhan prapti sadhana आदि को वार कर आग में जला दे . यदि आपके कुंडली में चन्द्रमा जब राहु से पीड़ित होता है तो नजर लगती है. मिर्च मंगल का, राई शनि का तथा नामक राहु का प्रतीक माने जाते है. तथा नजरो से बचें के लिए इन तीनो को पीड़ित व्यक्ति के सर में वार कर अग्नि में जला दिया जाता है.

यदि इन तीनो को जलाने पर तीखी गन्ध नही आती gupt dhan prapti sadhana तो यह समझाता जाता है की व्यक्ति को नजर लगी है अन्यथा कोई दुसरा उपाय करे.

gupt dhan prapti sadhana