काल भी नहीं कर सकता उसका बाल भी बांका, जिसने जपा ये एक मंत्र

सभी शास्त्रों और पुराणों में एक दिव्य मन्त्र के संबंध में कहा गया है की इस मन्त्र का जाप गंभीर से गंभीर बिमारी का काल है, खुद देवो के देव महादेव भी इस मन्त्र के जाप पर तुरंत अपने भक्त के समीप खींचे चले आते है.

इस मन्त्र का जाप इंसान को मौत के मुँह से बाहर खींच लाता है. मरणासन्न रोगी के लिए ये मन्त्र अमृत के समान होता है . दुर्घटना, भयंकर रोग, मौत को टालने तथा लम्बी उम्र के लिए इस मन्त्र का जाप इकलौता एवं बहुत करागार है.

इस मन्त्र का जाप करना परम् फलदायी है, लेकिन इस मंत्र के जाप में कुछ सावधानिया बरतना चाहिए जिससे की इसका सम्पूर्ण लाभ आपको मिले और आपको कोई हानि न हो.