इस गणेशोत्सव सिर्फ 10 दिन इस मन्त्र को पढ़ निकले बहार और देखे ….

विघ्नहर्ता भगवान श्रीगणेशजी की आराधना बहुत मंगलकारी मानी जाती है। इन दिनों उनके भक्त विभिन्न प्रकार से उनकी आराधना कर रहे हैं।

श्लोक, स्तोत्र, मंत्र तथा जाप द्वारा गणेशजी को मनाया जा रहा है। गणेशोत्सव में प्रतिदिन भगवान गणेश को दूर्वा अर्पित की जानी चाहिए।

निम्न मंत्र बोलकर गणेश जी को दूर्वा अर्पण करना चाहिए।

श्रीगणेश को दूर्वा अर्पण करने का मंत्र –
* ‘श्री गणेशाय नमः दूर्वांकुरान् समर्पयामि।’

घर से यह मंत्र बोलकर निकलें :

ॐ नमो सिद्धिविनायकाय सर्वकारकत्रै सर्वविघ्न प्रशमनाय सर्वराज्य वश्य्करणाय सर्वजन सर्वस्वी-पुरुषाकर्षणाय श्रीं ॐ स्वाहा।

यह मंत्र दिन की शुभता व सफलता के अतिरिक्त जीवन की प्रगति, उन्नति,धन, धान्य, संपत्ति, सुख, यश, कीर्ति, पराक्रम, तेज, आरोग्य और सौभाग्य प्रदान करता है।