सोमवती अमावश्या की रात चुपचाप रख दे एक फिटकरी, जमकर बरसेगा पैसा

सूरज और चन्द्रमा ये दोनों शक्तिशाली ग्रह अमावस्या के दिन एक राशि में आ जाते हैं अर्थात एक राषि में रहते हैं तब तक अमावस्या रहती है। चन्द्रमा सूरज के सामने निस्तेज हो जाता है अर्थात चंन्द्र की किरणें नष्ट प्राय हो जाती हैं। संसार में भयंकर अन्धकार छा जाता है।

तंत्र शास्त्र के मतानुसार अमावस्या के दिन किए गए उपाय, जाप, दान और पूजा अर्चना अत्यन्त प्रभावशाली होती है और इसका फल भी शीघ्र ही प्राप्त हो जाता है।

जो अमावस्या सोमवार के दिन आती है उसे सोमवती अमावस्या कहते हैं। सोमवार का दिन भगवान शिव के प्रिय चन्द्र देव को समर्पित है। भगवान ने स्वयं उन्हें अपने शीश पर स्थान दिया है।

अध्यात्म की दृष्टि में चन्द्र को मन का कारक माना गया है। चन्द्र की रोशनी के अभाव में अन्धेरी रात से तात्पर्य है मन से संबंधित समस्त दोषों के हल के लिए उत्तम दिन।

दोस्तों आज हम आपको रात में किया जाने वाले कुछ उपाय बता रहे जो आपकी समस्या को दूर करे देगा और आपके घर में धन एवं सुख सम्पति आएगी.

अमावस्या के समय जब तक सूर्य चन्द्र एक राषि में रहे, तब तब कोई भी सांसरिक कार्य जैसे-हल चलाना, कसी चलाना, दांती, गंडासी, लुनाई, जोताई, आदि तथा इसी प्रकार से गृह कार्य भी नहीं करने चाहिए।

अमावस्या को केवल श्री हरि विष्णु का भजन र्कीतन ही करना चाहिए। अमावस्या व्रत का फल भी शास्त्रों में बहुत ही ऊंचा बतलाया है।

पीपल के पेड़ को शास्त्रों में अश्वत्थ कहा गया है और इसे श्री हरि विष्णु का स्वरूप माना जाता है। जब पिप्पलाद मुनि ने पीपल के पेड़ के नीचे तपस्या करके शनि देव को प्रसन्न किया तत्पश्चात इस पेड़ का नाम पीपल पड़ा।

शास्त्रों में वर्णित है कि इस दिन पीपल के पेड़ की पूजा करने से पति की उम्र लम्बी होती है और उन पर आने वाले कष्ट टलते हैं। कोर्ट कचहरी और मुकदमें में विजय प्राप्त होती है, धन से संबंधित परेशानियों से राहत मिलती है एवं व्यावसायिक परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

आज सोमावती अमावस्या के पवित्र पर्व पर पीपल के पेड़ पर तिल के तेल का दीपक जलाएं और ‘ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय’ मंत्र का पेड़ के नीचे ही बैठ कर 108 बार जाप करें तो उपरोक्त लिखी सभी समस्याओं का अंत होगा।

फिटकरी का इस्तेमाल आयुर्वेद में कई रोगों को ठीक करने के लिए किया जाता है। फिटकरी का प्रयोग हम घरेलू औषधि के रूप में भी करते हैं। जले या कट जाने के निशानाें और मुंह के छालों में फिटकरी बहुत कारगर दवा होती है।

लेकिन क्या आप जानते हैं फिटकरी के चमतकारी फायदों के बारे में जो आपके बिगड़े हुए काम बना सकते हैं। साथ ही आपकी किस्मत को भी पलट सकते हैं। यदि आप जीवन में किसी समस्या से परेशान चल रहें हैं तो जरूरी करें फिटकरी के ये उपाय।

आज आप थोड़ी मात्रा में फिटकरी को लें और इसे पान के पत्ते में सिंदूर के साथ रखें और फिर इसे बांध लें। अब आप शाम के समय में इसे पीपल के पेड़ के नीचे मिट्टी में या फिर पत्थर से इसे दबा दीजिए। इस टोटके को आप की धन से सबंधित हर समस्या का नाश होगा.