आज की गणेश चतुर्थी 1 रूपये का सिक्का घर में माँ लक्ष्मी सदा के लिए करेगी वास

आज गणपति के आगमन को लेकर लोगों में उत्साह दिख रहा है। सुबह से लोग पूजा की तैयारी में जुटे हुए हैं। पूजा सामग्री की दुकानों और मिष्टान्न भंडारों पर लोगों की काफी भीड़ देखी जा रही है। बुद्धि और ज्ञान के देवता भगवान गणेश की पूजा का यह सबसे बड़ा दिन माना जाता है।

दोस्तों आज के दिन किया उपाय शीघ्र फलदायी होता है इसलिए आज हम आपके लिए एक रूपये का ऐसा उपाय लेकर आये है जो आपके घर में पैसो के समस्या हमेसा के लिए खत्म कर देगा. दोस्तों उपाय निचे वीडियो में बतलाया गया है.

सुख शांति और समृद्धि होती है प्राप्त

विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा अर्चना करने से घर में सुख, शांति और समृद्धि की प्राप्ति होती है। गणेश चतुर्थी की पूजा प्रतिवर्ष भक्त बड़े धूमधाम से मनाते है। इस वर्ष भी भगवान की गणेश की पूजा अर्चना करने के लिए शहर के विभिन्न जगहों पर पूजा-पंडाल बनाया गया है जहां पर भगवान गणेश विराजमान होंगे।

बुद्धि, ज्ञान और विघ्न विनाशक गणेश की पूजा सोमवार को सुबह से लेकर देर रात तक होगी। आचार्य विनोद झा वैदिक ने बताया कि रविवार को शाम छह बजे से लेकर सोमवार को देर रात तक चतुर्थी का संयोग बना है।

भगवान की पूजा करने का शुभ मुहुर्त सोमवार को 11 बजे से लेकर दोपहर एक बजकर 38 मिनट तक है।इस बार चतुर्थी वाले दिन काफी अच्छे संयोग बन रहे हैं।

वैसे रविवार को ही चतुर्थी शाम 6 बजकर 54 मिनट से लग गया थी जो कि आज रात 9 बजकर 10 मिनट पर समाप्त होगी। बप्पा की पूजा और स्थापना सोमवार को सुबह से लेकर रात 9:10 के बीच में कर सकते हैं।

वैसे पूजा का सबसे अच्छा वक्त सोमवार को दिन के 11 बजे से लेकर दोपहर के 1 बजकर 38 मिनट तक का है। भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी से लेकर अनंत चतुर्दशी के 10 दिन तक गणेश उत्सव मनाया जाता है।
कैसे करें पूजा…

– इस महापर्व पर प्रातः काल उठकर सोने, चांदी, तांबे और मिट्टी के गणेश जी की प्रतिमा स्थापित कर षोडशोपचार विधि से उनका पूजन करना चाहिए।

– पूजन के बाद चंद्रमा को अर्घ्य देकर ब्राह्मणों को दक्षिणा देनी चाहिए। मान्यता के अनुसार इस दिन चंद्रमा की तरफ नही देखना चाहिए.

– इस पूजा में गणपति को 21 लड्डुओं का भोग लगाने का भी विधान है।

50 साल बाद सावन में बन रहा है ऐसा संयोग…

अगर इस दिन की पूजा सही समय और मुहूर्त पर की जाए तो हर मनोकामना की पूर्ति होता है. ऐसा माना जाता है कि गणपति जी का जन्म मध्यकाल में हुआ था इसलिए उनकी स्थापना इसी काल में होनी चाहिए.

गणेश चतुर्थी का शुभ मुहूर्त…

इस बार चतुर्थी वाले दिन काफी अच्छे संयोग बन रहे हैं. रविवार को ही चतुर्थी शाम 6 बजकर 54 मिनट से लग जायेगी जो कि 5 सितंबर को रात 9 बजकर 10 मिनट पर समाप्त होगी. बप्पा की पूजा और स्थापना सोमवार को सुबह से लेकर रात 9:10 के बीच में कर सकते हैं.

वैसे पूजा का सबसे अच्छा वक्त सोमवार को दिन के 11 बजे से लेकर दोपहर के 1 बजकर 38 मिनट तक का है. भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी से लेकर अनंत चतुर्दशी के 10 दिन तक गणेश उत्सव मनाया जाता है.

कैसे करें पूजा…

– इस महापर्व पर लोग प्रातः काल उठकर सोने, चांदी, तांबे और मिट्टी के गणेश जी की प्रतिमा स्थापित कर षोडशोपचार विधि से उनका पूजन करते हैं.

– पूजन के बाद चंद्रमा को अर्घ्य देकर ब्राह्मणों को दक्षिणा देते हैं. मान्यता के अनुसार इन दिन चंद्रमा की तरफ नही देखना चाहिए.

– इस पूजा में गणपति को 21 लड्डुओं का भोग लगाने का विधान है।

गणेश जी की आराधना से ही बुद्धि और विद्या का वर मिलता है। आइए जानते हैं एेसे ही कुछ उपाय जो भाग्या को मनोनुकूल बना सकते हैं-

वाणी दोष दूर करने के लिए-

अगर कोई काम बहुत उपाय करने के बाद भी पूरा नहीं हो रहा है तो गणेशजी को चार नारियल माला में पिरोकर चढाएं और उनसे अपना संकट दूर करने की प्रार्थना करें।

इंटरव्यू अथवा परीक्षा में सफल होने के लिए

कच्चे सूत में सात गांठ लगाकर जय गणेश काटो क्लेश कहते हुए भगवान गणेशजी को समर्पित कर दें। उसके बाद उस धागे को अपने पर्स में रखें एेसा करने से इंटरव्यू तथा परीक्षा में सफलता प्राप्त होती है।

भाग्य को अपने अनुसार बदलने के लिए

गणेश चतुर्थी पर शुद्ध पानी से गणपति का अभिषेक करें। इसक् बाद गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ कर मावे के लड्डू का भोग चढाएं भगवान से मन ही मन अपनी प्रार्थना कहें तुरंत लाभ होगा।

समस्या दूर करने के लिए

गणेश चतुर्थी पर हाथी को हरा चारा खिलाएं और गणेशजी के मंदिर में जाकर अपनी समस्या दूर करने के लिए भगवान गणेश से प्रार्थना करें , कुछ ही दिनों में आपकी समस्या दूर होगी।

तुरंत धन प्राप्त करने के लिए

गणेश चतुर्थी के दिन सुबह स्नान कर धुले और साफ कपड़े पहनकर गणेशजी की पूजा करें उन्हें शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं थोड़ी देर बाद घी और गुड़ गाय को खिला दें धन की समस्याएं दूर हो जाएंगी।

क्रोध को दूर करने के लिए

छोटी-छोटी बातों पर अगर अापको क्रोध आता है तो इसके लिए आप लंबोदर गणपति को लाल रंग का फूल चढाएं क्रोध दूर हो जाएगा।