नवरात्री की छठी रात घी का दिया इतना आएगा पैसा की संभाले नहीं संभलेगा

नवरात्र के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है. माता रानी के भक्त इन दिनों व्रत रखते हैं और मां को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं. इन दिनों मां दुर्गा अपना आशीर्वाद देने के लिए हमारे घरों में विराजमान होती हैं.

नवरात्र के दौरान अगर आपको लगता है कि आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा का वास है तो इन पवित्र दिनों में इन उपायों को अपनाकर घर के इस दोष को दूर कर सकते हैं. नवरात्र में पूजा करने से नकारात्मक ऊर्जा, बाधाएं, अनावश्यक चीजे पास नहीं आती है और माता की कृपा बनी रहती है.

नवरात्र के दौरान आम और अशोक के पत्तों की माला बनाकर अपने घर के मुख्य दरवाजे पर बांधना शुभ माना जाता है. इससे घर की सभी तरह की होने वाली नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है.

इन दिनों मुख्य द्वार पर लक्ष्मीजी के पैर निशान बनाने से घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है इससे घर में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है.
नवरात्र के समय घर में मुख्य द्वार पर स्वास्तिक बनाना चाहिए. इसके साथ ही श्री गणेश का चित्र भी लगाना अच्छा माना जाता है. ऐसा करने से घर में आने वाली समस्याएं दूर होती है.

घर की परेशानी और नकारात्मक ऊर्जा दूर करने से नवरात्रि में किसी भी एक दिन लक्ष्मी मंदिर जाएं और केसर के साथ पीले चावल को मंदिर में जाकर चढ़ाएं. मां की विशेष कृपा आप पर बनी रहेगी.
संदर्भ पढ़ें


loading...
loading...