यदि आज घर में दिखे ये तो साक्षात् पितृ देव आप पर है मेहरबान

आगामी 20 सितंबर तक पितृपक्ष रहेगा। इन दिनों में पितर देवताओं के लिए किए गए उपायों से घर की सभी परेशानियां खत्म हो सकती हैं। मान्यता है कि पितृ पक्ष में मृत पूर्वजों की आत्मा पितृ लोक से धरती पर आती है।

यदि हम श्राद्ध विधि से उन्हें संतुष्ट कर देते हैं तो पितर आशीर्वाद देते हैं। तो जानते हैं कि पितृ-पक्ष में ऐसे पांच उपाय कौन-कौन से हैं जिसको करने से पितर को तृप्ति मिलती है।

पहला- पितृपक्ष में भगवद्गीता का पता करना चाहिए गीता के पाठ के बाद दान करने से पितर संतुष्ट होते हैं।

दूसरा- हर रोज कौओं को भोजन कराने के लिए घर के छत पर भोजन के छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटकर खाना देना चाहिए।

तीसरा- पितृ पक्ष में गरुड़ पुराण का पाठ करने से पितर खुश होते हैं और पितृ ऋण से मुक्त करते हैं।

चौथा- पीपल की जड़ में मीठा जल चढ़ाने और दीपक जलाने से पितर संतुष्ट होते है और पितृ ऋण से मुक्त कर देते हैं।

पांचवां- पितृपक्ष में कुत्तों को रोज भोजन कराने से और गाय को भोजन कराने से पितर खुश होते हैं।


loading...
loading...