शनिवार का पितृपक्ष आज की शाम 1 लोहे की कील घर होगी धन वर्षा

इन दिनों श्राद्ध पक्ष चल रहा है जो 6 सितंबर के भाद्रपद की पूर्णिमा पर आरम्भ हुआ था और 20 सितंबर यानि अश्विन माह की अमावस्या तक रहेगा। ऐसी मान्यता है कि पितृ पक्ष के दौरान हमारे पूर्वज पृथ्वी लोक पर आते है और हमें आशीर्वाद देते हैं। श्राद्ध में पितर देवता को प्रसन्न करने के लिए कौन-कौन से उपाय कर सकते आइए जानते हैं ताकि आपके साथ दुर्भाग्य न रहे और जीवन में सुख-समृद्दि बनी रहे।

पितृ पक्ष में कौऔं को खाना खिलाने से दुर्भाग्य का काला साया छूट जाता है और पितर देवता हमें आशीर्वाद प्रदान करते हैं।

जब भी पितृ पक्ष चल रहा हो तो पीपल के पेड़ का महत्व काफी बढ़ जाता है। पितृ पक्ष के दौरान पीपल के पेड़ की जड में जल चढ़ाना चाहिए और घी के दीपक जलाएं।

पितृ पक्ष में रोज काले कुत्ते को रोटी खिलाएं साथ ही मछलियों को आटे की गोलियां खिलाने से अटके हुए काम पूरे होने लगते हैं।

श्राद्ध में पितर देवता पृथ्वी पर आते है इसलिए इस दौरान रोज सुबह गीता का पाठ करना चाहिए ताकि हमें उनका आशीर्वाद प्राप्त हो सकें।