9 सितम्बर राहु केतु का महापरिवर्तन 6 राशियाँ संकट में

राहु और केतु दोनों को नीच ग्रह की श्रेणी में रखा जाता है। माना जाता है कि जिस व्यक्ति की राशि में इन ग्रहों का प्रवेश होता है, उसकी जिंदगी में तूफान आ जाता है।

परेशानियों से भरी उसकी जिंदगी करीब एक से डेढ़ साल तक इसी तरह से रहती है, क्योंकि दोनों की ग्रह एक से डेढ़ वर्ष के बाद ही राशि बदलते हैं। इस बार 9 सितंबर को शाम 4 बजे राहु सिंह राशि से निकलकर कर्क राशि में और केतु कुंभ राशि से मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं।

जिसका असर इन दोनों राशियों पर तो होगा ही साथ ही कुछ राशि के लोग भी इन दोनों की नजरों से नहीं बच पाएंगे।

कर्क राशि

राहु का गोचर आपकी जन्मराशि में होगा। इससे आपकी एक समस्या का तो अंत होगा, लेकिन कई परेशानियों का भी जन्म होगा। घर से जुड़े विवादों का अंत होगा। वहीं वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ सकती है। इस समय आप किसी नई साझेदारी और फिर किसी नए व्यापार को शुरू करने से बचें। आपकी राशि में राहु के आने के कारण धार्मिक कार्यों में भी आपकी अरुचि होगी।

सिंह राशि

आपकी राशि से राहु ग्रह जा रहा है। जिस वजह से आपको विदेश यात्रा करने का मौका मिलेगा। कानूनी मामलों से आपको छुटकारा मिलेगा।

मकर राशि

केतु हमेशा राहु की सप्तम राशि में होता है और इस बार केतु आपकी राशि में गोचर करने वाले हैं। जिस वजह से जीवनसाथी से मतभेद होने की संभावना है। स्वतंत्र व्यापारियों और सामझेदारों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। रिश्तों में अविश्वास, तनाव होने की संभावना है।

कुम्भ राशि

केतु आपकी राशि को छोड़कर जा रहे हैं। जिसके विरोधियों की चुनौतियों से लड़ने का साहस मिलेगा। करियर नई ऊंचाईयों पर जाएगा। आपकी कार्यकुशलता और नीतिनिर्धारण में सुधार होगा। नौकरी के बेहतर अवसर मिल सकते हैं।