Shani dosh nivaran upay जानिए शनि दोष निवारण के उपाय

आइये जाने Shani dosh nivaran के लिए  shani shanti के साथ क्या करे । शनि यानि शनिदेव ग्रह की छवि एक क्रूर ग्रह की बनी हुए है इसके पीछे कारन भी है क्योकि जब जब शनि की निगाह टेडी होती है अच्छे अच्छो की हालत ख़राब हो जाती है जोसा की हम सभी लोग जानते हकै कि शनिदेव जैसे के साथ तैसा परिणाम देते है अच्छे के साथ अच्छा और बुरे के साथ बुरा करते है परन्तु अनजाने मे कई बार शनि भक्त भी इसके कोप का भाजन बनते है इसीलिए शनि को बहुत ही दुष्ट ग्रह मानते है जबकि ये न्यायप्रिय है ।
क्या है shanidosh?

Shani dosh nivaran
Shani dosh nivaran

शनिदोष असल मे जातक कि कुंडली मे शनि कि दोष तब होता है जब वह संकट मे हो और जीवन कष्टदायक बना हुआ हो । जैसा कि हम जानते है शनिदेव कि चाल बहुत ही धीमी है क्योकि वो धीमी घाटी से चलते है इसलिए शनिदेव कि मार भी लम्बे समय तक चलती है इसी वजह से शनि की ढ़ैय्या, साढ़ेसाती भी शनि दोष ही मानते है।

दुखो का नाश करे परेशानी से छुटकारा दिलाने वाली घोड़े की नाल से बनी रिंग को खरीदने के लिए यह क्लिक करे(ghode ki naal/ring)

जानिए ..shani dev ki puja kaise kare

 Shani dosh nivaran ke upay in hindi

अगर प्रथम भाव मे शनि रहता है उसके निवारण के लिए उपाय(Shani dosh nivaran upay)

 

  • सुबह उठकर नहाकर अपने माथे पर रोजाना दूध या दही का तिलक कीजिये।
  • शनिवार के दिन तेल का प्रयोग न करे न ही तेल लगाए और न ही तेल खाने मे इस्तेमाल करे।
  • ताँबे के धातु से बने हुए चार साँप शनिवार के दिन नदी मे प्रवाहित करे।
  • जब भी आपको आपकी दिनचर्या मे समय मिले शनिदोष निवारण का मंत्र का जाप करे।

अगर दूसरे भाव मे शनि रहता है उसके निवारण के लिए उपाय(Shani dosh nivaran upay)

  • अगर शनि आपके कुंडली मे आ चुका है तो शराब का त्याग करे और मांशाहारी भोजन न करे ।
  • अगर संभव हो सके तो साँपो को दूध पिलाये कभी भी भूलकर परेशान न करे , और न ही उनको मारे।
  • घर मे भूलकर भी दो रंग वाली गाय / भैस कभी न पाले।
  • सुबह उठाकर नहा धोकर अपने ललाट पर दूध / दही का तिलक करे।
  • हर शनिवार को सरसो के तेल का दान करे इस से शनिदेव प्रसन्न रहते है।
  • शनिवार के दिन किसी तालाब या नदी मे मछलियों को आटा दाल दे।
  • शनिवार को भूलकर भी सिर पर तेल न लगाए।
  • घोड़े की नाल से बनी रिंग को भी अपनी ऊँगली मे पहने

अगर तीसरे भाव में शनि हो तो उसके निवारण के उपाय (Shani dosh nivaran upay)

  •  अगर आपके घर का मुख्य दरवाजा दक्षिण दिशा मे है तो उसको तुरंद बंद करवा दीजिये
  • हर रोज शनि चालीसा का पाठ करे और साथ ही हो सके तो अपने पहचान वालो जैसे – मित्रो , साथियो अथवा रिश्तेदारों को गिफ्ट करे

shanidosh

  • अगर आप शराब का सेवन करते है तो शराब को छोड़ दे और साथ ही मांसाहारी भोजन का त्याग कर दे
  •  शनि का शनि यन्त्र धारण कर ले

shani yantra

  • आप अपने घर मे एक काला रंग का कुत्ता पाले एवं उसका ध्यान रखे
  • घोड़े की नाल से बनी रिंग को भी अपनी ऊँगली मे पहने

अगर आपके चतुर्थ भाव में शनि हो तो उसके लिए निवारण के उपाय (Shani dosh nivaran upay)

  • रात मे कभी भी दूध न पीये
  • परायी स्त्री से भूलकर भी अवैध संबंध न बनाये
  • कौवों को दाना अवश्य खिलाये
  • सर्प को दुध पिलाये जिससे की शनिदेव प्रशन्न रहते है
  • काले रंग की भैस पाले
  • शनिवार के दिन कच्चा दूध कुएं मे डाले
  • शनिवार को एक बोतल शराब की बहती हुए नदी मे प्रवाहित कर दे
  • घोड़े की नाल से बनी रिंग(छल्ला) को भी अपनी ऊँगली मे पहने

घोड़े की नाल से बनी रिंग(छल्ला)

कठिनाईया व् बुरे वक़्त से छुटकारा दिलाये kale ghode ki naal /ring

अगर आपके पंचम भाव में शनि हो तो उसके निवारण के लिए उपाय (Shani dosh nivaran upay)

  • अगर घर मे आपके पुत्र या पुत्री का जन्मदिन है तो उसके जन्मदिन पर नमकीन व् मिठाइयां अदि बांटनी चाहिए
  • आपको मॉस और शराब का सेवन नहीं करना चाहिए
  • घर मे काला कुत्ता पाले और उसका पूरा ध्यान भी रखे
  • गले मे शनि यन्त्र को अवश्य धरण करे
  • शनिवार को शनिदेव की पूजा करे

अगर छठवे भाव में शनि हो तो उसके निवारण के उपाय (Shani dosh nivaran upay)

  • चमड़े से बनी हुए चीजे जैसे -बैग ,अटेची ,जूते अदि का प्रयोग न करे
  • चार नारियल बहते हुए पानी मे बहा दे लेकिन प्रवाहित करने से पहले ध्यान रखे ,गंदे नाले मे नहीं करे नहीं तो परिणाम उल्टा हो सकता है
  • हर शनिवार के दिन काली गाय को घी से चुपड़ी हुए रोटी को नियमित रूप से रोजाना खिलाये
  • शनि यन्त्र अवश्य धारण करे

 

  • घोड़े की नाल से बनी रिंग को भी अपनी ऊँगली मे पहने

अगर शनि आपके सप्तम भाव में मे है तो उसके निवारण के लिए उपाय (Shani dosh nivaran upay)

  • परायी औरत से कभी भी अवैध संबंध न बनाये
  • हर शनिवार के दिन घी से चुपड़ी रोटी काली गाए को खिलाये
  • शनि यन्त्र अवश्य धारण करे
  • मिटटी के किसी बरतन मे शहद भरकर खेत मे मिटटी के नीचे दबा दे
  • आपको अपने हाथ मे घोड़े की नाल से बना शनि छल्ला अवश्य धारण करना है
  • घोड़े की नाल से बनी रिंग को भी अपनी ऊँगली मे पहने

अगर शनि आपके अष्टम भाव में अगर शनि हो तो उसके निवारण के उपाय(Shani dosh nivaran upay)

  • आपको अपने गले मे चांदी की माला धारण करनी होगी
  • शराब को बिलकुल छोड़ दे उसके अलावा मांशाहारी भोजन भी छोड़ दे
  • शनिवार के दिन आपको आठ किलो उड़द की दाल बहती हुए नदी मे प्रवहित कर दे सबसे पहले उड़द को काले
  • रंग के कपडे मे बांध ले और उसके बाद बंधन को खोल ले उसके बाद ही प्रवाहित करे
  • शनि यन्त्र अवश्य धारण करे
  • kale ghode ki naal से बनी रिंग को भी अपनी ऊँगली मे पहने

जानिए…. how to do shani puja at home

Shani mantra for shani dosh
शनि दोष निवारण के लिए आपको रोजाना भगवान शिव का मंत्र ॐ नमः शिवाय’ का जप करना चाहिए और उसके बाद महामृत्युंजय मंत्र- ‘ॐ त्र्यंबकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्द्धनं उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्’ का जप करना चाहिए।
जब भी शनिदेव की दशा पूरे साढ़े सात वर्ष तक किसी की भी राशि मे आ जाये तो उस इनसान का जीवन संकट मे आ जाता है इसी वजह से इसको ज्योतिष विज्ञानं मे साढ़े साती बोला गया है शनि के प्रकोप से बचने के लिए हम आज आपको शनि मंत्र बताने जा रहे है जिससे की आपका जीवन सुखद हो, मंत्र कुछ इस प्रकार है
ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्
उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात् ॥
भगवान महादेव का यह मृत्युंजय मंत्र शनि दशा के साथ-साथ सारे गृह के दोषो को शांत करता है इस मंत्र का जाप करने का जब भी मन हो तब शिव मंदिर मे जाकर शिवलिंग के सामने करना चाहिए

mantra

शनि की साढे-साती के प्रकोप से दूर रहने के लिए शनि मंत्र का प्रयोग करे व् साथ ही साथ शनिदेव की आराधना करे इसके साथ छोटे छोटे उपाय कर सकते है जैसे -शनिवार के दिन गाय को सवा किलो गेहू का दलिया और उसमे हल्का सा सरसो का तेल मिला ले और साथ मे गूढ़ भी ले ले इसको लगातार 7 शनिवार तक इसकी प्रक्रिया को करिये शनि की साढ़े साती आने के बारे मे बताया गया है की इसका समय बहुत लम्बा होता है
Shani dosh ke lakhan

शनि की ढैय्या और साढ़े साती
जैसा की हम लोग जानते है शनि की ढैय्या और साढ़े साती लोगों को परेशान करती है लेकिन बहुत कम लोग ये बात जानते है की दुनिया मे बहुत से लोग शनि के प्रकोप से प्रभावित होते है लेकिन असल मे ऐसे व्यक्ति कुछ खास परिस्थितियों के साथ अन्य लोगो से ज्यादा चुनौतीपूर्ण जीवन रहता है
ज्योतिष शास्त्र
जैसा की नई हम जानते है की जिन लोगो को शनि का कृपा उनके जीवन मे परेशानी का ताँता लगा रहता है लेकिन आखिरी मे वे उनके जीवन मे सफल होते है ,परन्तु कैसे पता करे शनिदेव की कृपा है या नहीं ?

शारीरिक परेशानियां
ऐसे लोग जो कि छोटी सी उम्र मे हड्डियों से जुड़ी परेशानी से परेशान होने लगते है ऐसे लोग जो कि पैरो कि परेशानी से ग्रसित है जो कि इन्हे चलने मे परेशानी महसूस कर रहे है जैसे – पैरो मे मोच आ जाना ,कमर मे दर्द ,मसल्स पैन या क्रैक जैसे समस्या से ग्रसित है