Karwa Chauth 2018

Karwa Chauth 2018: What is Sargi and what foods it includes

Karwa Chauth 2018

एक पारंपरिक हिंदू त्यौहार है, जहां महिलाएं अपने पतियों की दीर्घायु और सुरक्षा के लिए सूर्योदय से चंद्रमा के उदित होने तक व्रत रखती हैं।Karwa Chauth 2018 हिन्दू चंद्र कैलेंडर के अनुसार, यह कार्तिक के महीने कृष्णा पक्ष चतुर्थी के दौरान आता है।

story of karva chauth in hindi

karwa chauth vidhi के अनुसार विवाहित महिलाएं सुबह जल्दी उठती हैं। सुबह में sargi सर्गी खाती हैं। जो उनके सास के द्वारा बनाया जाता है। एक सरगी को उसकी बहू के लिए उसकी बहू के लिए इस दिन आशीर्वाद के रूप में माना जाता है। उसे शुभकामनाएं दी जाती हैं। वह उपवास पूरा कर सके। महिलाएं इस दिन एक निर्जल व्रत भोजन और पानी के बिना व्रत रखती हैं।

"<yoastmark

is Karwa chauth Sargi a healthy diet?

karva chauth fast में सर्गी एकमात्र चीज है। जो वे पूरे दिन खाते हैं। एक आदर्श सरगी एक थाली है। जिसमें मिठाई और सेवैयाँ होते हैं। एक पर सूखे फल नारियल मिठाई फल और साड़ी और आभूषण के उपहार होते हैं।

What is Sargi and what foods it includes?

करवा चौथ पर, महिलाएं अपना दिन सर्गी के साथ शुरू करती हैं। फिर पूरे दिन उपवास करती हैं। Karwa Chauth 2018 इस वर्ष में भी हालांकि सरगी थाली बहुत अच्छी  होती है। कुछ ऐसे स्वष्टवर्धक भोज्य पदार्थ हैं जो आपको अपनी थाली में जोड़ना चाहिए।

sargi

what foods it includes-सेवैयाँ और अन्य हल्के पके हुए भोजन  वे भर रहे हैं। पूरे दिन आपको ऊर्जावान रखते हैं। पकाया सब्जियां या हलवा कभी-कभी भी शामिल होते हैं।

मिठाई: अपने दिन को कुछ मीठा के साथ शुरू करने के लिए शुभ माना जाता है आपको फलो का सेवन करना चाहिए जो आपको बिना के पानी के शरीर को देहाइड्रेट होने से रोकता है और आपको फाइबर भी प्रदान करते है।

Why some men fast on Karwa Chauth?

यद्यपि लोकप्रिय परंपरा में विवाहित hindu women महिलाएं दिन भर उपवास करती हैं। अपने पतियों के अच्छे स्वास्थ्य और दीर्घायु के लिए प्रार्थना करते हैं। hindu festivals भारतीय परम्परा में पति और पत्नी को एक दूसरे का अभिन्न अंग मन जाता है। ऐसा भी मन जाता है की पति और पत्नी का जन्म जन्मांतर का रिश्ता है।

karva chauth vrat vidhi

यह त्योहार, जो देश के कई हिस्सों, विशेष रूप से उत्तर और मध्य भारत में महान हर्षोउल्लास के साथ के साथ मनाया जाता है।हिंदू कैलेंडर के अनुसार Karwa Chauth 2018  कार्तिक के महीने में चौथे दिन है।

karva chauth par kya kya pehnana chahiye?

करवा चौथ पति और पत्नी दोनों के लिए सबसे शुद्ध और पवित्र पर्व है। जहाँ पत्नी अपने पति के अच्छे स्वस्थ्य एवं दीर्घायु की कामना के लिए व्रत रखती हैं। ऐसे में सभी विवाहित महिलाएँ अपनी पसंद के अनुसार पूर्ण लाल और गोल्डन रंग की साड़ी पहनती हैं। आप लाल साड़ी के साथ अपने बालों पर भी ध्यान दे।पूर्ण रूप से सोलह श्रृंगार करें ।जो एक पूर्ण रूप से एक विवाहित स्त्री का श्रृंगार होता है।

karva chauth pooja vidhi

इसका मतलब है कि यह आमतौर पर अक्टूबर या नवंबर में होता है। इस दिन, सूर्योदय से चंद्रमा तक तेजी से महिलाएं प्रार्थना करती हैं। यह एक प्रेम का प्रतीक है। अगर कोई पुरुष अपनी पत्नी के लिए उपवास रखता है। तो यह उसका प्रेम है जो होना भी चाहिए। पति और पत्नी का रिश्ता अभेद्य होता है। जन्म जन्मातंर का होता है। अगर यहाँ पुरुष अपनी पत्नी क इ लिए उपवास करते हैं।  यह एक समाज के लिए अच्छा उदाहरण है।  प्रेम की पराकाष्ठा है।

"<yoastmark

karva chauth par kya kya karna chahiye aur kya nahi?

  • Karwa Chauth 2018  में भी भारतीय परम्परा के अनुसार  केवल सुहागिने या जीना रिश्ता तय हो गया हो वही स्तरीय व्रत रख सकती हैं।
  • इस व्रत में काले और सफ़ेद कपडे नै पहनने चाहिए।  पीले और लाल रंग के कपडे पहनने चाहिए।
  • पति व्रत रख सकते हैं। यदि आप की पत्नी बीमार हैं तो यह भी उचित रहता है।
  • इस व्रत में  आहार का विशेष ध्यान दिया जाता है। एक बार सुबह के समय पर आहार लेना होता है। जो की सरगी नाम से जाना जाता है
  • इस व्रत के पूर्ण होने के बाद शुद्ध भोजन एवं पौष्टिक भोजन करना चाहिए।
  • नियम के अनुसार यह व्रत सुभह से शाम तक रखा जाता है।
  •  Karwa Chauth 2018  में इस बार करवा चौथ का शुभ योग बन रहा है। जो बहुत फलदायक और सुख समृद्धि देने वाला होगा।