shiv ki puja vidhi in hindi

shiv ki puja vidhi in hindi-रोज रात्रि के समय करे यह उपाय, महादेव दूर कर देंगे हर बाधा !

shiv ki puja vidhi in hindi शिव की पूजा विधि इन हिंदी

पूरी सृष्टि के कर्ता-धर्ता हैं भगवान शिव shiv ki puja vidhi in hindi जिनकी आराधना से भक्तों के जीवन के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं. शिवपुराण में भगवान शिव और संसार के कई रहस्यों को उजागर किया गया है एवं इस पवित्र ग्रंथ में जीवन के कष्टों से निवारण हेतु कई shiv ki puja vidhi in hindi उपाय भी बताए गए हैं.

विश्वास है कि इसमें उल्लिखित उपायों से धन से जुड़ी परेशानियां भी दूर की जा सकती हैं. मान्यता है कि शिवपुराण के चमत्कारिक उपायों को अपनाकर मनुष्य के shiv ki puja vidhi in hindi पापों का नाश होता है और भविष्य उज्जवल बनता है.

यदि आप भी धन संबंधी परेशानियों से जूझ रहे हैं तो शिव पुराण shiv ki puja vidhi in hindi में उल्लिखित इस उपाय को रोज़ रात को अवश्य करें -:

शिव पुराण में बताया गया है कि रोज रात को शिवलिंग shiv ki puja vidhi in hindi के पास दीपक जलाने से धन संबंधी परेशानियां दूर होती हैं. माना जाता है कि ऐसा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है और भगवान शिव शीघ्र प्रसन्न होते हैं.

इन प्राचीन परंपराओं का पुराने (shiv ki puja vidhi in hindi) समय से ही काफी महत्व है एवं ये काफी प्रचलित उपाय है. इस उपाय से जुड़ी एक प्राचीन कथा भी बताई गई है जो इस प्रकार है -:

shiv ki puja vidhi in hindi

प्राचीन काल में गुणनिधि नामक एक बहुत ही गरीब व्यक्ति था |  वह भोजन की खोज में रहता था. इस खोज में रात हो गई और वह एक शिव मंदिर में पहुंच गया. गुणनिधि ने सोचा कि उसे रात्रि विश्राम इसी मंदिर में कर लेना चाहिए.

रात के समय वहां अत्यधिक अंधेरा हो गया. इस अंधकार shiv ki puja vidhi in hindi को दूर करने के लिए उसने शिव मंदिर में अपना कुर्ता जलाया था. रात्रि के समय भगवान शिव के समक्ष प्रकाश करने के फलस्वरूप उस व्यक्ति को अगले जन्म में देवताओं के कोषाध्यक्ष कुबेर देव का पद प्राप्त हुआ.

इस कथा के बाद से ही रात्रि के समय  भगवान शिव के आगे दीपक जलाने की प्रथा आरंभ हो गई. मान्यता है कि इस उपाय को करने से अपार धन-संपत्ति एवं समृद्धि की प्राप्ति होती है. दीपक लगाते समय ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जप करना चाहिए.

इसके अलावा नियमित रूप से प्रात: काल शिवलिंग  पर जल, दूध, चावल अर्पित करने से भी भगवान शिव प्रसन्न होते हैं और धन-धान्य का आशीर्वाद देते हैं.